fbpx

What is Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021?

Advertisement

Mukhyamantri Abhyudaya Yojana Apply | नि:शुल्क कोचिंग रजिस्ट्रेशन | मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आवेदन फॉर्म

उत्तर प्रदेश में कई सारे छात्र ऐसे हैं जो अपनी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण कोचिंग प्राप्त नहीं कर पाते हैं। ऐसे सभी छात्रों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन पथरिया आदि। तो दोस्तों यदि आप UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021

उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीएस, सीडीएस, नीट और जे ई ई जैसी प्रतियोगिताओं की परीक्षा की तैयारी करने के लिए मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत ऐसे सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी जो इन परीक्षाओं की तैयारी करना चाहते हैं लेकिन अपनी आर्थिक स्थिति के कारण नहीं कर पाते हैं। इस योजना के अंतर्गत मंडल स्तर पर छात्रों को सिलेबस एवं क्वेश्चन बैंक भी उपलब्ध करवाया जाएगा। UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 का कार्यान्वयन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की निगरानी में किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत कक्षाएं बसंत पंचमी के दिन से आरंभ होंगी। इस योजना के अंतर्गत छात्रों को ऑनलाइन स्टडी मटेरियल के साथ ऑफलाइन कक्षाएं भी प्रदान की जाएगी।

Advertisement
What is Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021?

मुख्यमंत्री अभुदय योजना के अंतर्गत छात्रों का मार्गदर्शन

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत केवल कोचिंग ही नहीं बल्कि आईएएस, आईपीएस और पीसीएस की तैयारी करने वाले छात्रों को मार्गदर्शन भी प्रदान किया जाएगा। ऑफलाइन कक्षाओं में विभिन्न अवसर छात्रों का मार्गदर्शन करेंगे। आईएएस, पीसीएस परीक्षा के छात्रों के लिए प्रशिक्षु आईएएस, आईपीएस, आईएफएस(वन सेवा), पीसीएस अधिकारी और एनडीए और सीडीएस के छात्रों के लिए सैनिक स्कूल के प्राचार्य मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत विषय के विशेषज्ञों को गेस्ट फैकल्टी के तौर पर भी बुलाया जाएगा। मंडल स्तर पर इस योजना के अंतर्गत परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को सिलेबस तथा परीक्षा पैटर्न की जानकारी भी निशुल्क प्रदान की जाएगी। आधिकारिक वेबसाइट पर क्वेश्चन बैंक की डिटेल भी छात्र प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत उच्च स्तरीय कोचिंग संस्थाओं के स्टडी मैटेरियल भी छात्रों को प्रदान किए जाएंगे।

Key Highlights Of UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021

योजना का नाममुख्यमंत्री अभ्युदय योजना
किस ने लांच कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के छात्र
उद्देश्यप्रतियोगिताओं के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
साल2021

उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन अकैडमी को सौंपी गई जिम्मेदारी

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत स्टडी मैटेरियल प्रदान करने की जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन एकेडमी (उपाम) को सौंपी गई है। मंडल स्तर पर प्रशिक्षण केंद्रों के संचालन व सम्मानवन की भी उपाम द्वारा निगरानी की जाएगी। यदि इस योजना के अंतर्गत छात्र ने प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण कर ली है तो मुख्य परीक्षा की तैयारी करवाने की जिम्मेदारी भी उपाम को सौंपी गई है। अपाम के द्वारा क्वेश्चन बैंक, प्रश्नोत्तरी आदि भी वेबसाइट पर उपलब्ध करवाई जाएगी। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से अब आप घर बैठे ही प्रतियोगिताओं की परीक्षा की कोचिंग प्राप्त कर पाएंगे। इसके लिए आपको फीस भरने की भी आवश्यकता नहीं पड़ेगी। UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के पहले चरण में 18 मंडल मुख्यालय को शामिल किया गया है। इन 18 मंडल मुख्यालयों में अभ्युदय कोचिंग सेंटर आरंभ किए जाएंग। यह कोचिंग सेंटर राज्य विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालयों में संचालित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना ई प्लेटफार्म

प्रतिवर्ष उत्तर प्रदेश से करीब 4 से 5 लाख छात्र यूपीएससी, विभिन्न राज्य पीएससी, जे ई ई, नीट आदि परीक्षाओं में शामिल होते हैं। इसमें से ज्यादातर बच्चे आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों से आते हैं। ऐसे सभी बच्चों के लिए यह योजना बहुत लाभकारी साबित होगी। मंडलायुक्त लखनऊ के अंतर्गत ई लर्निंग कॉन्टेंट प्लेटफार्म विकसित किया जाएगा। जिसके अंतर्गत छात्रों को स्टडी मटेरियल उपलब्ध करवाया जाएगा। इस ई लर्निंग प्लेटफॉर्म पर विभिन्न अधिकारियों द्वारा परीक्षा की तैयारी के लिए वीडियो के माध्यम से अपना अनुभव साझा किया जाएगा। इस प्लेटफार्म पर लाइव सेशन तथा सेमिनार भी आयोजित की जाएंगी। इस प्लेटफार्म पर छात्र प्रश्न भी पूछे जा सकते हैं। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत विद्यार्थी कोचिंग सेंटर पर उपलब्ध होने के साथ-साथ घर बैठे भी कोचिंग प्राप्त कर सकेंगे।

Advertisement

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का मुख्य उद्देश्य आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीए, सीडीएस, नीट जैसी प्रतियोगिताओं के लिए छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से वह सभी छात्र जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर पाते उन सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी। Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत कोचिंग प्राप्त करने के लिए छात्रों को किसी दूसरे राज्य में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वह अपने राज्य एवं अपने जिले से कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के होनहार छात्रों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा और वह अच्छी से अच्छी कोचिंग प्राप्त करके परीक्षा में बैठ पाएंगे।

 Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के लाभ तथा विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना आरंभ की गई।
  • इस योजना के अंतर्गत आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीएस, सीडीएस, नीट आदि जैसी प्रतियोगिताओं की परीक्षा की तैयारी करने के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • वह सभी छात्र जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर पाते थे उनको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।
  • UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत सिलेबस एवं क्वेश्चन बैंक में उपलब्ध करवाए जाएंगे।
  • इस योजना का कार्यान्वयन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की निगरानी में किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत कक्षाएं बसंत पंचमी के दिन से आरंभ होंगी।
  • इस योजना के अंतर्गत छात्रों को ऑनलाइन स्टडी मटेरियल के साथ ऑफलाइन कक्षाएं भी प्रदान की जाएंगी।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत केवल कोचिंग ही नहीं बल्कि छात्रों को मार्गदर्शन भी प्रदान किया जाएगा। यह मार्गदर्शन विभिन्न अफसरों द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत विषय विशेषज्ञों से गेस्ट लेक्चर का प्रबंध भी कराया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत परीक्षा पैटर्न की जानकारी भी छात्रों को प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत उच्च स्तरीय कोचिंग संस्थानों के स्टडी मेटेरियल भी छात्रों को प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन अकैडमी को स्टडी मैटेरियल का प्रबंध करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।
  • छात्रों द्वारा प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद मुख्य परीक्षा की तैयारी करवाने की जिम्मेदारी भी उपाम को सौंपी गई है।
  • इस योजना के प्रथम चरण में 18 मंडल मुख्यालयों को शामिल किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत एक ई प्लेटफार्म भी विकसित किया जाएगा।
  • ई प्लेटफार्म के माध्यम से छात्रों को e-content प्रदान किया जाएगा। इस ई प्लेटफार्म के माध्यम से छात्र कोचिंग भी प्राप्त कर सकते हैं। ई प्लेटफार्म पर छात्र अपने प्रश्न भी पूछ सकते हैं।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए पात्रता तथा महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा। सरकार द्वारा अभी केवल इस योजना की घोषणा की गई है। जल्द UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया सक्रिय की जाएगी। जैसे ही इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया सरकार द्वारा बताई जाएगी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से जरूर बताएंगे। कृपया आप हमारे इस लेख से जुड़े रहे।

Advertisement
close

Hi there 👋
It’s nice to meet you.

Subscribe & Get Free Job Updates Daily

We don’t spam!

Hi there 👋 It’s nice to meet you
Subscribe & Get Free Job Updates Daily

Leave a Comment

Hi there 👋 It’s nice to meet you
Subscribe & Get Free Job Updates Daily