मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना को  उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा राज्य के बेरोजगार युवाओ ,किसानो ,प्रवासी मजदूरों को स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए लागु किया गया  है। इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा  राज्य के बेरोजगार युवाओ ,कृषको ,प्रवासियों को सौर ऊर्जा के ज़रिये  रोजगार का सुनहरा अवसर प्रदान करने  के लिए सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना का शासनादेश जारी कर दिया गया है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के बेरोजगार युवा ,कृषक और प्रवासी व्यक्ति अपनी निजी भूमि अथवा लीज पर भूमि लेकर सोलर पावर प्लांट की स्थापना कर सकेंगे। प्यारे दोस्तों आज हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से Mukhyamantri Saur Swarojgar Yojana 2020 से जुड़ी सभी जानकारी जैसे आवेदन प्रक्रिया ,पात्रता ,दस्तावेज़ आदि प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

Mukhyamantri Saur Swarojgar Yojana 2020

इस योजना को पूरे उत्तराखंड में लागू किया जायेगा। इस योजना के तहत सरकार द्वारा  25 किलोवाट क्षमता के ही सोलर पावर प्लांट अनुमन्य किये जाएंगे और साथ ही मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020 के तहत दिए जाने वाले ऋण अनुदान  आदि लाभ अनुमन्य किये जायेगे।  इस योजना के तहत  मुख्यमंत्री जी द्वारा राज्य के 10 हज़ार बेरोजगार व्यक्तियों को स्वरोजगार प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है। जिससे राज्य के बेरोजगार युवाओ को रोजगार मिल सके और वह अपनी आजीविका को सही ढंग से चला सके। इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्र व्यक्तियों को इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इस योजना को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग द्वारा “मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना” के सम्बन्ध में जारी कार्यालय ज्ञाप सं.-580/VII-3/01(03)-एम.एस.एम.ई/2020 दि-09 मई, 2020 के एक अध्याय के रूप में संचालित किया जाएगा।

सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना उत्तराखंड का उद्देश्य

जैसे की आप सभी लोग जानते है दिन प्रतिदिन देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। जिसको देखते हुए कई राज्य सरकार राज्य के बोरजगार व्यक्तियों को रोजगार प्रदान  करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है इसी तरह उत्तराखड  राज्य में भी बेरोजगार नागरिको को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना को आरम्भ किया है इस योजना के ज़रिये राज्य के बेरोजगार युवाओ ,किसानो को और प्रवासियों को सौर ऊर्जा के माध्यम से  स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायेगे।  प्रदेश के बेरोजगारों, उद्यमियों, उत्तराखंड के ऐसे प्रवासियों जो कोविड -19 के कारण राज्य में वापिस आये हैं तथा लघु एवं सीमान्त कृषकों को स्थानीय स्टार पर स्व-रोज़गार के अवसर सुलभ कराना।इस योजना के ज़रिये राज्य में जो कृषि भूमि जो बंजर हो रही है, पर सोलर पावर प्लांट लगाकर आय के साधन विकसित कराना।और राज्य को प्रगति की और ले जाना।

Advertisement

Uttarkhand Saur Swarojgar Yojana 2020 Highlights

योजना का नाम मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना
इनके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी 
लाभार्थी राज्य के बेरोजगार युवा ,किसान ,प्रवासी
उद्देश्य रोजगार के अवसर प्रदान करना

मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020 के मुख्य तथ्य

  • कोविडकाल में जो उत्तराखंड लौटे प्रवासियों के लिए यह योजना आजीविका का मजबूत आधार बन सकती है। इस योजना के अंतर्गत  उन लोगो को भी रोजगार प्राप्त हो सकते है।
  • उत्तराखंड के ऐसे  लघु एवं सीमान्त कृषकों तथा राज्य के बेरोजगार निवासियों को स्वरोजगार के अवसर प्राप्त करना चाहते है  तथा उनके पास  ऐसी भूमि है जो कृषि योग्य नहीं है, वह सोलर पावर प्लांट की स्थापना कर उत्पादित विद्युत् को यू.पी.सी.एल को विक्रय करके  आय के साधन विकसित कर सकते है।
  • CM Solar Energy Self- Employment Scheme 2020 के अंतर्गत 25 किलोवाट क्षमता के ही सोलर पावर प्लांट को ही अनुमन्य किये जायेगे।
  • सरकार द्वारा अनुमान लगाया जा रहा है कि इस योजना के तहत 10 लाख रूपये की लागत लगेगी।

उत्तराखंड सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020 हेतु ऋण

  • इस योजना के तहत परियोजना लागत की 70 प्रतिशत राशि राज्य व जिला सहकारी बैंक से आठ प्रतिशत ब्याज की दर से लाभार्थी ऋण के रूप में ले सकेंगे  तथा शेष राशि सम्बंधित लाभार्थी द्वारा मार्जिन मनी के रूप में वहन की जाएगी।
  • सरकार का कहना है कि डेढ़ से ढाई लाख रुपये तक की पूंजी वाला व्यक्ति सरकार के सहयोग से परियोजना लगा सकता है और रोजगार प्राप्त कर सकता है।
  • उत्तराखंड सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020 के तहत सहकारी बैंक द्वारा  15 साल की अवधि हेतु ऋण दिया जायेगा।
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य के सीमांत जिलों में यह अनुदान 30 प्रतिशत तक होगा और  पर्वतीय जिलों में 25 प्रतिशत तक और अन्य जिलों में 15 प्रतिशत तक ही होगा।

Mukhyamantri Saur Swarojgar Yojana 2020 के लाभ

  • इस योजना का लाभ उत्तराखंड के बेरोजगार युवाओ ,किसानो और उत्तराखंड में लोट कर आये प्रवासी मजदूरों को ही प्रदान किया जायेगा।
  • Mukhyamantri Saur Swarojgar Yojana 2020 के अंतर्गत राज्य के बेरोजगार युवाओ ,किसानो और उत्तराखंड में लोट कर आये प्रवासी मजदूरों को सौर ऊर्जा के क्षेत्र में  रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जायेगे।
  • इस योजना के अंतर्गत पात्र व्यक्ति (राज्य के स्थायी निवासी) अपनी निजी भूमि अथवा लीज पर भूमि लेकर सोलर पावर प्लांट की स्थापना कर सकेंगे।
  • राज्य के 10 हज़ार बेरोजगार व्यक्तियों को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा।
  • वर्षवार लक्ष्यों का निर्धारण MSME एवं वित्त विभाग की सहमति से निर्धारित किया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत आवंटित सोलर पावर प्लांट की स्थापना पर विनिर्माणक गतिविधि हेतु सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (MSME ) विभाग द्वारा लागू “मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना” के अंतर्गत अनुमन्य अनुदान / मार्जिन मनी एवं लाभ प्राप्त हो सकेंगे।
  • 25 किलोवॉट क्षमता के संयंत्र की स्थापना पर लगभग 40 हजार प्रति किलोवॉट की दर से कुल 10 लाख का व्यय संभावित है।
  • 25 कि.वॉ. क्षमता के सोलर पावर प्लांट से वर्षभर में अनुमानित 38,000 यूनिट विद्युत् उत्पादन हो सकेगा।

मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020 की पात्रता

  • आवेदक उत्तराखंड का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य के बेरोजगार युवा ,किसान और प्रवासियों को ही पात्र माना जायेगा।
  • प्रदेश के उद्यमशील युवक, ग्रामीण बेरोज़गार एवं कृषक  18 वर्ष से अधिक आयु के होने चाहिए।
  • इस योजना के तहत स्वरोजगार प्राप्त करने के लिए शैक्षित योग्यता की कोई बाध्यता नहीं है। बिना शैक्षित योग्यता के भी आप इस योजना में आवेदन कर सकते है और योजना का लाभ उठा सकते है।
  • इस योजना में एक व्यक्ति को केवल एक ही सोलर पावर प्लांट आवंटित किया जाएगा।

सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020 के दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना 2020 में आवेदन कैसे करे ?

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी बेरोजगार युवा ,किसान ,प्रवासी  इस योजना के अंतर्गत सौर ऊर्जा के क्षेत्र में स्वरोजगार प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

Advertisement
  • इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए उरेडा द्वारा MSME Online Portal पर आवेदन आमंत्रित /प्राप्त किये जायेंगे। जिस पर सभी इच्छुक पात्र लाभार्थी आवेदन कर सकेंगे।
  • आवेदन करने के लिए सभी लाभार्थियों को एक आवेदन पत्र को भरना होगा और आवेदन के साथ ही हर लाभार्थी को रु 500/- (जी0एस0टी0 सहित) आवेदन शुल्क के रूप में निर्देशक,उरेडा,देहरादून के पक्ष में बैंक ड्राफ्ट के रूप में जमा कराया जाना होगा अथवा उरेडा के खाता सं0- 4422000101072887,IFSC Code:PUNB0442200, ब्रांच :विधानसभा,देहरादून में जमा कराया जाना होगा।
    • प्राप्त आवेदनों की स्क्रूटनी हेतु हर जनपद में निम्नानुसार “तकनीकी समिति” गठित की जायेगी :-
    • महाप्रबंधक,जिला उद्योग केंद्र अथवा उनके द्वारा नामित प्रतिनिधि।
    • यू0पी0सी0एल0 के सम्बंधित जनपद के अधिशासी अभियन्ता।
    • उरेडा के जनपदीय अधिकारी, (समन्वयक)
  • तकनीकी रूप से उपयुक्त पाये गये आवेदकों को परियोजना का आवंटन जनपद स्तर पर निम्नानुसार गठित समिति द्वारा किया जायेगा :-
    • जिलाधिकारी अथवा उनके द्वारा नामित मुख्य विकास अधिकारी – अध्यक्ष। महाप्रबन्धक,जिला उद्योग केंद्र -सदस्य।
    • अधिशासी अभियन्ता, यू0पी0सी0एल0 – सदस्य।
    • सम्बंधित जनपद के सचिव /महाप्रबन्धक,जिला सहकारी बैंक – सदस्य।
    • वरि0 परि0 अधि0 /परि0 अधि0,उरेडा – सदस्य सचिव।
  • परियोजना आवंटन पत्र प्राप्त होने पर लाभार्थी द्वारा उत्तराखंड पावर कॉर्पोरेशन लि0 (यू0पी0सी0एल0) के साथ विद्युत् क्रय अनुबंध हस्ताक्षरित किया जायेगा।